List of Grahan

List of Eclipse in 2024
 
Mar 25, 2024 Monday चंद्र ग्रहण Know more
चंद्र  ग्रहण / Lunar Eclipse 25 मार्च  2024
  
साल 2024 में चंद्र  ग्रहण 25 मार्च  को लगेगा । ये चंद्र ग्रहण साउथ/वेस्ट यूरोप, ईस्ट एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, नार्थ/साउथ अमेरिका, पेसिफिक, अटलांटिक, आर्किटिक, अंटार्कटिका  में दिखाई देगा।     

ग्रहण का समय 

चंद्र ग्रहण प्रारम्भ   25 Mar, 04:53:13 25 Mar, 10:23:13
पूर्ण ग्रहण                 25 Mar, 07:12:46 25 Mar, 12:42:46
 चंद्र ग्रहण समाप्त25 Mar, 09:32:21 25 Mar, 15:02:21
 

Penumbral Eclipse begins25 Mar, 04:53:13 25 Mar, 10:23:13
Maximum Eclipse                25 Mar, 07:12:46 25 Mar, 12:42:46
Penumbral Eclipse ends25 Mar, 09:32:21 25 Mar, 15:02:21

सूतक काल

चंद्र ग्रहण का सूतक ग्रहण से 9  घंटे पहले शुरू हो जाता है. शास्त्रों के अनुसार सूतक के नियम वहीं माने जाते हैं, जहां ये ग्रहण दिखाई देता है. 

 ग्रहण के दौरान क्या न करें

1- ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार के शुभ कार्य करना वर्जित माना गया है । 

2-खासतौर पर गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के समय में बाहर नहीं आना चाहिए।
 
3- ग्रहण के दौरान भोजन बनाने और खाने से बचना चाहिए ।

4- ग्रहण काल में स्त्रिया एक नारियल अपने पास रख कर सोये । 

5- ग्रहण के समय फूल, पत्तिया या पौधों का स्पर्श करने से बचना चाहिए । 

6- ग्रहण के दौरान ब्रह्मचर्य का पालन करे। 

7- ग्रहण के समय तेल लगाना, मालिश करना, नाख़ून या बाल काटना भी वर्जित माना गया है । 


ग्रहण के समय क्या करना चाहिए । 

1- ग्रहण के समय में अपने ईष्ट देवता का ध्यान और उनके मंत्र का जप करना चाहिए ।

2- ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान कर लेना चाहिए न संभव हो तो पवित्र जल के छींटे अपने शरीर पर डालने चाहिए ।

3-  ग्रहण के समय अन्न और दाल का दान का निकाल कर रख देना चाहिए जो ग्रहण समाप्त होने पर किसी को देना चाहिए ।

4- ग्रहण समाप्ति के बाद गाय को हरा चारा, पक्षियों को दाना तथा गरीबों को वस्त्र का दान करना भी फलदायक होता है।


Apr 08, 2024 Monday सूर्य ग्रहण Know more
 सूर्य ग्रहण /Solar Eclipse 8 अप्रैल 2024
  
साल 2024 में सूर्य ग्रहण 8 अप्रैल को लगेगा । ये सूर्य ग्रहण वेस्ट यूरोप , नार्थ  अमेरिका , नार्थ/साउथ  अमेरिका, पसिफ़िक, अटलांटिक, आर्कटिक.  में दिखाई देगा।     

ग्रहण का समय 

सूर्य ग्रहण प्रारम्भ    8 Apr, 21:12:10
पूर्ण ग्रहण             8 Apr, 23:47:16
सूर्य ग्रहण समाप्त   8 Apr,  02:22:14
 

Solar Eclipse begin 8 Apr, 21:12:10
Maximum Eclipse   8 Apr,  23:47:16
Solar Eclipse end    8 Apr,  02:22:14

सूतक काल

सूर्य  ग्रहण का सूतक ग्रहण से 12  घंटे पहले शुरू हो जाता है. शास्त्रों के अनुसार सूतक के नियम वहीं माने जाते हैं, जहां ये ग्रहण दिखाई देता है. 

 ग्रहण के दौरान क्या न करें

1- ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार के शुभ कार्य करना वर्जित माना गया है । 

2-खासतौर पर गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के समय में बाहर नहीं आना चाहिए।
 
3- ग्रहण के दौरान भोजन बनाने और खाने से बचना चाहिए ।

4- ग्रहण काल में स्त्रिया एक नारियल अपने पास रख कर सोये । 

5- ग्रहण के समय फूल, पत्तिया या पौधों का स्पर्श करने से बचना चाहिए । 

6- ग्रहण के दौरान ब्रह्मचर्य का पालन करे। 

7- ग्रहण के समय तेल लगाना, मालिश करना, नाख़ून या बाल काटना भी वर्जित माना गया है । 


ग्रहण के समय क्या करना चाहिए । 

1- ग्रहण के समय में अपने ईष्ट देवता का ध्यान और उनके मंत्र का जप करना चाहिए ।

2- ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान कर लेना चाहिए न संभव हो तो पवित्र जल के छींटे अपने शरीर पर डालने चाहिए ।

3-  ग्रहण के समय अन्न और दाल का दान का निकाल कर रख देना चाहिए जो ग्रहण समाप्त होने पर किसी को देना चाहिए ।

4- ग्रहण समाप्ति के बाद गाय को हरा चारा, पक्षियों को दाना तथा गरीबों को वस्त्र का दान करना भी फलदायक होता है।


Sep 18, 2024 Wednesday चंद्र ग्रहण Know more
  चंद्र  ग्रहण / Lunar Eclipse 18 सितम्बर 2024
 
साल 2024 में चंद्र  ग्रहण 18 सितम्बर को लगेगा । ये चंद्र  ग्रहण यूरोप, साउथ/वेस्ट एशिया , अफ्रीका, नार्थ  अमेरिका, साउथ अमेरिका, पसिफ़िक, अटलांटिक, इंडियन ओशियन  , आर्कटिक, अंटार्टिका  में दिखाई देगा।     

ग्रहण का समय 

चंद्र ग्रहण प्रारम्भ     18 Sep, 06:11:03 
पूर्ण ग्रहण                18 Sep, 08:14:12
चंद्र ग्रहण समाप्त     18 Sep, 10:17:21 
 

Penumbral Eclipse begins  18 Sep, 06:11:03 
Maximum Eclipse              18 Sep, 08:14:12
Penumbral Eclipse ends     18 Sep, 10:17:21 

सूतक काल

चंद्र   ग्रहण का सूतक ग्रहण से 9  घंटे पहले शुरू हो जाता है. शास्त्रों के अनुसार सूतक के नियम वहीं माने जाते हैं, जहां ये ग्रहण दिखाई देता है. 

 ग्रहण के दौरान क्या न करें

1- ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार के शुभ कार्य करना वर्जित माना गया है । 

2-खासतौर पर गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के समय में बाहर नहीं आना चाहिए।
 
3- ग्रहण के दौरान भोजन बनाने और खाने से बचना चाहिए ।

4- ग्रहण काल में स्त्रिया एक नारियल अपने पास रख कर सोये । 

5- ग्रहण के समय फूल, पत्तिया या पौधों का स्पर्श करने से बचना चाहिए । 

6- ग्रहण के दौरान ब्रह्मचर्य का पालन करे। 

7- ग्रहण के समय तेल लगाना, मालिश करना, नाख़ून या बाल काटना भी वर्जित माना गया है । 


ग्रहण के समय क्या करना चाहिए । 

1- ग्रहण के समय में अपने ईष्ट देवता का ध्यान और उनके मंत्र का जप करना चाहिए ।

2- ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान कर लेना चाहिए न संभव हो तो पवित्र जल के छींटे अपने शरीर पर डालने चाहिए ।

3-  ग्रहण के समय अन्न और दाल का दान का निकाल कर रख देना चाहिए जो ग्रहण समाप्त होने पर किसी को देना चाहिए ।

4- ग्रहण समाप्ति के बाद गाय को हरा चारा, पक्षियों को दाना तथा गरीबों को वस्त्र का दान करना भी फलदायक होता है।


Oct 02, 2024 Wednesday सूर्य ग्रहण Know more
 सूर्य  ग्रहण/ Solar Eclipse 2 अक्टूबर 2024
 
साल 2024 में सूर्य  ग्रहण 2 अक्टूबर को लगेगा । ये सूर्य ग्रहण साउथ  अमेरिका , पसिफ़िक , अटलांटिक  अंटार्टिका   में दिखाई देगा।     

ग्रहण का समय 

सूर्य ग्रहण प्रारम्भ 2 Oct, 21:12:56

पूर्ण ग्रहण    2 Oct, 00:15:00

सूर्य ग्रहण समाप्त  3 Oct, 03:16:55 

 
Solar Eclipse begin 2 Oct, 21:12:56

Maximum Eclipse  3 Oct, 00:15:00

Solar Eclipse end  3 Oct, 03:16:55



सूतक काल

सूर्य  ग्रहण का सूतक ग्रहण से 12  घंटे पहले शुरू हो जाता है. शास्त्रों के अनुसार सूतक के नियम वहीं माने जाते हैं, जहां ये ग्रहण दिखाई देता है. 

 ग्रहण के दौरान क्या न करें

1- ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार के शुभ कार्य करना वर्जित माना गया है । 

2-खासतौर पर गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के समय में बाहर नहीं आना चाहिए।
 
3- ग्रहण के दौरान भोजन बनाने और खाने से बचना चाहिए ।

4- ग्रहण काल में स्त्रिया एक नारियल अपने पास रख कर सोये । 

5- ग्रहण के समय फूल, पत्तिया या पौधों का स्पर्श करने से बचना चाहिए । 

6- ग्रहण के दौरान ब्रह्मचर्य का पालन करे। 

7- ग्रहण के समय तेल लगाना, मालिश करना, नाख़ून या बाल काटना भी वर्जित माना गया है । 


ग्रहण के समय क्या करना चाहिए । 

1- ग्रहण के समय में अपने ईष्ट देवता का ध्यान और उनके मंत्र का जप करना चाहिए ।

2- ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान कर लेना चाहिए न संभव हो तो पवित्र जल के छींटे अपने शरीर पर डालने चाहिए ।

3-  ग्रहण के समय अन्न और दाल का दान का निकाल कर रख देना चाहिए जो ग्रहण समाप्त होने पर किसी को देना चाहिए ।

4- ग्रहण समाप्ति के बाद गाय को हरा चारा, पक्षियों को दाना तथा गरीबों को वस्त्र का दान करना भी फलदायक होता है।


Interested in Personalized Predictions from Dr. Prem Kumar Sharma           SCHEDULE AN APPOINTMENT

Testimonials

Prediction of Premji are always correct and helps a lot in our daily routine of work
garg romesh
I was facing a real problem in my career then my relative told me about Dr. Prem Sharma ji and he looked into my kundli, told me about my stars position and about the complication and gave me the simple solution and its six months now and i am doing well in my career . i feel so great that i reached out to you.
Apoorva Shukla
Very good prediction
G.V.Ramana
he is great.
Gursewak Singh
I met Dr. Prem Kumar Sharma in the month of November 2011 for the first time though the reference of my aunt. I had some family problems at that time & met him as an astrologer but I found him a very humble, genuine & much more than an astrologer. His guidance & predictions are remarkable. I feel very good when I sit in his office & the way he handles the situation or any problem is beyond my imagination. He tells us small Upayas which not only changes your state of mind but your whole personality. I have got full confidence in him.
Ms. Meera Gupta
Post your testimonial

@premastrologer

Watch More

@askmanisha

Watch More